प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ मुश्किलों के घेरों में आती नजर आ रही है।  ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज डेट जैसे जैसे करीब आ रही है, वैसे ही फिल्म को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। निर्वाचन आयोग ने मोदी के बायोपिक के निर्माताओं को नोटिस भेज कर जवाब मांगा है। आयोग ने निर्माताओं को जवाब देने के लिए 30 मार्च तक का समय दिया है।

पिछले दिनों कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग में जाकर लिखित शिकायत की थी  कि लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले 5 अप्रैल को पीएम नरेंद्र मोदी की रिलीज से आर्दश आचार संहिता का उल्लंघन होगा। और फिल्म की रिलीज पर चुनाव तक बैन लगाने की मांग की थी।
कांग्रेस ने “पीएम नरेंद्र मोदी” को 19 मई के बाद रिलीज किए जाने की मांग की गई है।

निर्वाचन आयोग ने “पीएम नरेंद्र मोदी” के निर्माताओं, म्यूजिक कंपनी और दो अखबारों को 20 मार्च को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है
दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रणबीर सिंह ने बताया कि संबंधित पक्षों को जवाब देने के लिए 30 मार्च तक का समय दिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक की रिलीज डेट पहले 12 अप्रैल थी। लेकिन अब फिल्म की रिलीज डेट 5 अप्रैल कर दी गई है।

इस फिल्म का निर्देशन ओमंग कुमार द्वारा किया गया हैं और इसका निर्माण संदीप सिंह और सुरेश ओबेरॉय ने किया हैं। जबकि फिल्म के म्यूजिक राइट्स टी सीरीज के हैं। इस फिल्म में विवेक ओबेरॉय, नरेंद्र मोदी की मुख्य भूमिका निभाते नजर आयेंगे। यह कहानी नरेंद्र मोदी के जीवन पर आधारित है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here