साल 2018 में फिल्म बत्ती गुल मीटर चालू में वकील की भूमिका में दिखीं अभिनेत्री यामी गौतम की इस साल फिल्म उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक सिनेमा घरों में आने को तैयार है। इस फिल्म में यामी गौतम इंटिलेजेंस ऑफिसर के किरदार में नजर आएंगी। उरी में हुए हमले के बाद इंडियन आर्मी द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर बेस्ड यह फिल्म इसी शुक्रवार को रिलीज होगी। पिछले दिनों फिल्म से जुड़े एक प्रमोशनल इवेंट में हमारी मुलाकात यामी से हुई और यामी ने हमें फिल्म के बारे में काफी कुछ बताया। पेश हैं हमारी बातचीत के प्रमुख अंश।

आपकी अगर पिछली फिल्में देखी जाए तो यह आसानी से कहा जा सकता है कि आप चैलेंजिंग किरदार करना चाहती हैं ?

मैं हमेशा से ही कुछ अलग करना चाहती हूं लेकिन हर बार यह मौका आपको नहीं मिलता इसलिए जब भी मुझे मौका मिलता है तो मैं तुरंत कर ले ती हूं। मैं उन फिल्मों का भी हिस्सा बनना चाहती हूं जिसमें मुझे मेरा किरदार कुछ अलग लगे। जैसे फिल्म उरी में मैं इंटेलिजेंस ऑफिसर का किरदार निभा रही हूं। इस तरह का किरदार मैंने आज तक नहीं निभाया है।

उरी अटैक के बारे में आप पहले कितना जानती थीं और जब आपने फिल्म कर ली है तो इस अटैक के बारे में कितना जान पाईं ?

पहले उरी अटैक के बारे में उतना ही जानती थी जितना एक आम आदमी जानता था लेकिन अब जब मैं फिल्म कर चुकी हूं तो काफी कुछ जान चुकी हूं। अब मुझे पता है कि `यह ऑपरेशन कितना मुश्किल था और इस ऑपरेशन में काफी लोग शामिल थे। इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए कितने लोगों ने अपनी जान दाव पर लगाई थी और ऑपरेशन के पीछे काफी ब्रिलियंट माइंड थे तभी तो यह ऑपेरशन सफल हुआ। मैं यह एक्सपेरिएंस कभी नहीं भूलूंगी।

विक्की कौशल के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा ?

विक्की एक ब्रिलियंट एक्टर हैं और जिस तरह की फिल्में वो आजकल कर रहे हैं वो तारीफ के काबिल है। कोई भी फिल्म करके तब ही मजा आता है जब आपका को-एक्टर अच्छा हो और विक्की एक अच्छे को-एक्टर हैं, उनके साथ काम करके मजा आया। आपने परेश रावल सर के बारे में नहीं पूछा फिर भी आपको बताऊंगी कि मेरे उनके साथ भी फिल्मों में कुछ सीन्स हैं और उनके साथ वो सीन्स करना मेरे लिए काफी गर्व की बात थी क्योंकि परेश जी के साथ काम करना मतलब कि एक लीजेंड के साथ काम करना।

जब आप शुरुआत में आई थीं तो आपकी इमेज एक गर्ल नेक्स्ट डोर वाली थी लेकिन आपको नहीं लगता कि आप अपनी यह इमेज तोड़ रही हैं ?

देखिए, मुझे लगता है कि मैंने अपनी कोई इमेज नहीं तोड़ी है क्योंकि मेरी कभी कोई इमेज थी ही नहीं, लेकिन लोगों को अगर लगता है कि मेरी इमेज एक गर्ल नेक्स्ट डोर वाली है तो मैं उस इमेज से भाग भी नहीं रही हूं। मैं इस वक्त सिर्फ और सिर्फ ऐसे किरदार करना चाहती हूं जो मुझे पसंद आए और कुछ अलग हो क्योंकि मैं खुद को रिपीट करना नहीं चाहती।

आजकल बायोपिक का दौर चल रहा है, ऐसे में आप किस पर्सनालिटी की बायोपिक फिल्म का हिस्सा बनना चाहेंगी ?

कभी इस बारे में सोचा नहीं फिर भी आप पूछ रहे हैं तो बताना चाहूंगी कि अगर मुझे मौका मिले तो मैं इंदिरा गांधी या फिर मधुबाला जी की लाइफ बड़े पर्दे पर जीना पसंद करुंगी।

 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here