मायानगरी में धक-धक गर्ल के नाम से जानी जाने वाली एक्ट्रेस माधुरी दीक्षित फिल्म राजा के बाद इंद्र कुमार की फिल्म टोटल धमाल में कॉमेडी करती नजर आएंगी। अजय देवगन, अनिल कपूर, रितेश देशमुख, अरशद वारसी स्टारर यह फिल्म 22 फरवरी को रिलीज होगी। फिल्म के प्रमोशन के दौरान माधुरी दीक्षित से हुई बातचीत के खास अंश पेश है.
फिल्म ‘टोटल धमाल’ की किस खासियत ने आपको अट्रैक्ट किया? 
सबसे पहले तो मुझे फिल्म की कहानी बहुत पसंद आई। जो कि बहुत ही फनी और इंटरटेनिंग लगी। खासकर इसलिए क्योंकि इंदू जी ने मुझे सारे किरदार तो बताए ही साथ में यह भी बताया कि फलां किरदार कौन अभिनेता निभाएगा। सो हुआ यूं कि मैं उन एक्टर्स को उस सीन में इमेजिंग करने लगी, जिससे फिल्म में मेरी दिलचस्पी और भी बढ़ने लगी। इस फिल्म का फैमिली इंटरटेनिंग होना भी प्लस प्वाइंट रहा है, जिसे आप पूरे परिवार के साथ बैठकर देख सकते हैं।
सालों बाद मल्टी स्टारर फिल्म में काम करने का एक्सपिरिएंस कैसा रहा?  
इस फिल्म में जितने भी कलाकार हैं, मैं उन सबके साथ पहले भी काम कर चुकी हूं, जैसे इंदूजी के साथ आखरी फिल्म ‘राजा’ की थी, अनिल जी के साथ के फिल्म ‘पुकार’, अजय देवगन के साथ फिल्म ‘ये रास्ते हैं प्यार के’, जावेद जाफरी के साथ ‘१०० डेज’ और अरशद के साथ ‘ढेड़ इश्किया’ इसलिए मैं शूटिंग के पहले दिन से ही कंफर्ट थी और इसलिए उनके साथ काम करने का अनुभव भी बेहतरीन रहा।
टोटल धमाल फिल्म धमाल की फ्रेंचाइजी है, आप फिल्म की फ्रेंचाइजी को किस तरह देखती हैं? 
फ्रेंचाइजी की बात करें तो फिल्म गोलमाल की फ्रेंचाइजी मेरी फेवरेट रही है। धमाल की फ्रेचाइजी की बात करूं तो मैंने सिर्फ फिल्म धमाल देखी है ‘डबल धमाल’ नहीं देखी। मुझे लगता है फ्रेंचाइजी फिल्म का अपना एक कौन्सेप्ट होता है और कहानी उसके आसपास घूमती है। धमाल की फ्रेंचाइजी में भी वही बात है धमाल में भी सब पैसे के पीछे पड़े थे टोटल धमाल में भी पैसों की वजह से धमाल हो रहा है।
फिल्म में अनिल कपूर और आपके बीच कैसा रिश्ता है? 
इस फिल्म में हमारी कैमेस्ट्री रोमांटिक तो नहीं है, मगर मजेदार जरूर है। फिल्म में मैं बिंदू का रोल प्ले कर रही हूं। बिंदू मराठी है और फिल्म में अनिल कपूर की बीवी बनी है। अनिल कपूर गुजराती बने हैं। हम दोनों आइडियल कपल नहीं हैं, बल्कि आपस में हमेशा लड़ते झगड़े रहते हैं। जहां तक बात अनिल जी के साथ काम करने की है, तो मैं यही कहूंगी कि वो आज भी उतनी ही एनर्जी के साथ काम करते हैं, जितना की पहले करते थे। सेट पर भी वो सबसे ज्यादा धमाल करते थे।
आप के दौर से अब तक इंडस्ट्री में किस तरह के बदलाव आए हैं?  
पहले से अब इंडस्ट्री में काफी बदलाव आए हैं। उस समय कुछ भी चीजें, जैसे शूटिंग का शेड्यूल, कौस्ट्यूम पहले से तय तमाम नहीं होती थीं लेकिन अब इंडस्ट्री काफी और्गनाइज्ड और डिसिप्लिन्ड भी हो गई। कुछ प्रोडक्शन हाउस के अलावा बाकी कोई भी प्रोडक्शन हाउस में तय समय पर चीजें मुहैया नहीं होती थीं। मगर आज सब कुछ पहले से ही सेट रहता है जिससे शूटिंग में मदद मिलती है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here